Uncategorized

राजश्री मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल द्वारा गोद लिए गए 50 क्षय रोगियों हेतु मासिक पुष्टाहार वितरण समारोह का आयोजन।

बुधवार, दिनांक 20 अप्रैल 2022 को राजश्री मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल द्वारा गोद लिए गए क्षय रोगियो हेतु मासिक पुष्टाहार वितरण समारोह का आयोजन माँ सरस्वती जी के समक्ष मुख्य अतिथि माननीय जिलाधिकारी बरेली श्री शिवाकान्त द्विवेदी, जिला क्षय रोग अधिकारी बरेली डॉ के.के. मिश्रा एवं संस्थान के चेयरमैन श्री राजेन्द्र अग्रवाल जी ने दीप प्रज्वलित करके किया।
संस्थान के पी.जी. कोआर्डिनेटर डॉ॰ रंजन अग्रवाल ने कहा कि कॉलेज एवं अस्पताल ने अपने हर कर्तव्य का निर्वहन पूरी निष्ठा के साथ किया है। आज अस्पताल मे सुपर स्पेशलिटी सहित कुल 740 बैड हैं, संस्थान के पी.जी. कोर्स में भी बढ़ौत्तरी हुई है, आगे भी कॉलेज अपने निरन्तर सेवाभाव एवं कर्तव्यों का निर्वहन करते हुए नये आयाम तक पहुँचेगा।
संस्थान के क्षय रोग विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ. जितेन्द्र त्यागी ने बताया कि टी.बी. शरीर के किसी भी हिस्से में हो सकती है। अधिकांश केसों में क्षय रोग का संक्रमण फेफड़ों में आ जाता है जिस कारण संक्रमण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है। टी.बी. के सामान्य मुख्य लक्षण बुखार का आना, कमजोरी, थकान का रहना, बुखार का शाम के समय आना या हल्का बुखार आना, खाँसी या बलगम आना, श्वाँस फूलना या खून का आना। यह लक्षण कुछ मरीजों में अधिक हो सकते हैं या कुछ कम लक्षण हो सकते हैं, इसलिए टी.बी. की जाँच अवश्य करानी चाहिए। कई वर्ष पहले टी.बी. की दवाईयाँ एवं इलाज मुश्किल था आज के समय इलाज एवं दवाईयाँ उपलब्ध हैं एवं टी.बी. की बिमारी को खत्म किया जा सकता है।
जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ॰ के॰के॰ मिश्रा ने कहा कि यह क्षय रोग कार्यक्रम माननीय राज्यपाल श्रीमती आनंदी बेन जी ने 2019 से शुरू किया था। क्षय रोग दूर करने के लिए हमें कई और जाँचों का दायरा बढ़ाना होगा। पहले इस बिमारी की जाँच रिपोर्ट हमें दो माह बाद ही मिल पाती थी और मरीज को वैक्सिन लगाने में देरी हो जाती थी। आज स्थिति बिल्कुल अलग है, अब जाँच रिपोर्ट में बिल्कुल देरी नहीं होती और मरीज का उपचार समय पर हो जाता है।
मुख्य अतिथि माननीय जिलाधिकारी बरेली श्री शिवकान्त द्विवेदी जी ने कहा कि टी.बी. के रोगियों को दवाओं के साथ पुष्टाआहार देना जरूरी होता है, केवल सूर्य की रोशनी व दवाओं से रोगी निरोग नहीं होता, इसलिए यह पुष्टाआहार योजना चलाई गई है। उन्होने राजश्री अस्पताल द्वारा 50 क्षय रोगियो को गोद लिए जाने व उन्हें प्रतिमाह पुष्टाहार प्रदान करने की पहल करने की सराहना करते हुए क्षय रोगियों के जल्द स्वास्थ्य लाभ की कामना की।
संस्थान के चेयरमैन श्री राजेन्द्र अग्रवाल ने कहा कि मैं माननीय जिलाधिकारी महोदय जी का अभारी हूँ कि इस कार्यक्रम के माध्यम से उन्होने यह दायित्व सौंपकर मुझे गौरन्वित किया है। उन्होनें बताया कि राजश्री मेडिकल कॉलेज द्वारा गोद लिये गए 50 क्षय रोगी कभी भी आकर अपनी जाँचें राजश्री अस्पताल में करा सकते हैं। इस अवसर पर उन्होनें मुख्य अतिथि जिलाधिकारी बरेली श्री शिवाकान्त द्विवेदी जी को स्मृति चिन्ह् भेंट कर सम्मानित किया।
अस्पताल द्वारा गोद लिये गये क्षय रोगियों हेतु मासिक पुष्टाहार वितरण समारोह में जिलाधिकारी बरेली श्री शिवाकान्त द्विवेदी जी मुख्य अतिथि के अतिरिक्त डी.टी.ओ. बरेली डॉ॰ के॰के॰ मिश्रा जी, संस्थान के चेयरमैन श्री राजेन्द्र अग्रवाल, सेक्रेटरी श्री राकेश अग्रवाल, मैनेजिंग डायरेक्टर श्री रोहन बंसल, सी0ओ0ओ0 श्री ऋषभ बंसल, ट्रस्टी डॉ॰ अजय कुमार अग्रवाल, मेडिकल सुपरिटेन्डेन्ट डॉ॰ अर्जुन सिंह, एम.ओ.आई.सी. फतेहगंज पश्चिमी डॉ॰ संचित शर्मा, एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर श्री वी॰डी॰ अरोरा, क्षय रोग विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ॰ जितेन्द्र त्यागी, पी.जी. कोआर्डिनेटर डॉ॰ रंजन अग्रवाल, डॉ॰ साकेत अग्रवाल एवं रजिस्ट्रार श्री दुष्यन्त महेश्वरी सहित विभिन्न विभागों के विभागाध्यक्ष, प्रोफेसर एवं अध्यापकगण उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.